Tuesday, 28 June 2016

`उड़ता पंजाब' हरित क्रांति की विषाक्त विरासत के प्रति हमारी आंखें खोलता है

चित्र - http://punjab2000.com


[ डा वन्दना शिवा के लेख का हिन्दी अनुवाद । मूल लेख अंग्रेजी में यहा सकते हैं -
 http://www.thequint.com/opinion/2016/06/22/how-udta-punjab-compels-us-to-ponder-upon-green-revolution-pahalaj-nihalani-farmer-crisis-pesticide  ]

उड़ता पंजाब कई ऐसी सामाजिक और और पारिस्थितिक संकटों पर प्रकाश डालता है जो गैर-टिकाऊ औद्योगिक रसायनिक खेती की देन है जिसे लोगों को गुमराह करने के लिये हरित क्रांति का नाम दिया गया था । फिल्म में एक दृश्य है जिसमें एक जाँच की चौकी पर पुलिस वाले ड्रग से भरे एक ट्रक को रोकते हैं । वह ड्रग की समस्या को `हरित क्राँति २.२ ' की शुरुआत का नाम देते हैं और पंजाब की तुलना मेक्सिको से करते हैं ।

पंजाब में शुरु की गई हरित क्राँति को इस बात के लिये नोबेल शांति पुरस्कार दिया गया था कि नए बीज और रसायन खेती समृद्धि और शांति लाएंगे । लेकिन १९८४ तक पंजाब हिंसा और युद्ध का क्षेत्र बन चुका था ,जहाँ ३०,००० लोगों की मौत हो चुकी थी । हरित क्राँति के इस मिथक और पंजाब में हो रही हिंसा की सच्चाई ने ही मुझे पंजाब पर अनुसंधान करने को मजबूर किया था ।

Wednesday, 1 June 2016

How Britain’s Royal Society Covers Up the Scientific Evidence About Impacts of GM Crops on Health and Environment


Soil Association

A look at the Rohingya Crisis

American plan for a South Asian “Kosovo” in Rohingyaland Andrew KORYBKO   09/06/2015  Oriental Review Part I   As complex ...